SSC पेपर लीक: CBI जांच की मांग पर अड़े प्रदर्शनकारियों से मिले सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे

0
103

नई दिल्ली (जेएनएन)। कर्मचारी चयन आयोग (SSC) प्रश्नपत्र लीक होने के मामले में सीबीआइ जांच को लेकर दिल्ली में छात्रों का आंदोलन जारी है। प्रदर्शनकारियों से नेताओं और सामाजिक संस्थाओं के लोगों को मिलना जारी है।

इस कड़ी में सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे रविवार को दिल्ली पहुंचकर प्रदर्शनकारियों से मुलाकात की। इससे पहले अन्ना हजारे ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर पूरे मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की थी।
एक दिन पहले यानी शनिवार को दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने प्रदर्शनकारी छात्रों से मुलाकात कर उनका पक्ष जाना था। बता दें कि कर्मचारी चयन आयोग में प्रश्नपत्र लीक होने के मामले छात्रों का आंदोलन जारी है।

छात्रों के उग्र आंदोलन के कारण होली के बाद भी जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम मेट्रो स्टेशन सुरक्षा कारणों से नहीं खोला गया। शनिवार को एक तरफ जहां स्वराज इंडिया के प्रमुख योगेंद्र यादव ने इस बाबत एक पत्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखा वहीं अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के एक प्रतिनिधि मंडल ने शनिवार को एसएससी के चेयरमैन असीम खुराना से मिला और इस मामले को लेकर ज्ञापन सौंपा। शनिवार को इसमें लगभग सभी छात्र संगठन शामिल हुए और एक स्वर में इस मामले में सीबीआइ जांच की मांग की।

स्वराज अभियान के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि मैं यह पत्र बहुत दुख के साथ लिख रहा हूं। जब देश में होली मनाई जा रही थी तब यह युवा अपने अंधेरे भविष्य को लेकर यहां प्रदर्शन कर रहे थे। आपको विजय दिलाने में युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका रही है लेकिन जिस तरह कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षा में धांधली हुई है उसकी सीबीआइ जांच की मांग सभी छात्र कर रहे हैं।

एबीवीपी की केंद्रीय कार्यकारी समिति के सदस्य सौरभ कुमार शर्मा ने बताया कि एबीवीपी एसएससी में हुए घोटाले के लिए बैठे छात्रों का समर्थन करने के साथ उनके साथ खड़ी है। हम सरकार से माग करते है कि जल्द से जल्द इस मामले की सीबीआई जाच कराए जिससे सच्चाई बाहर आ सके।

आंदोलनरत कई छात्रों ने यह भी बताया कि कुछ कोचिंग केंद्रों ने भी पिछले एसएससी के चेयरमेन के साथ मिलकर घोटाले किए हैं अत: हम सरकार से यह भी माग करते हैं कि वह इनकी भी जाच कराए और दोषी पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई करे। अगर सरकार सीबीआई जाच नहीं करती है तो एबीवीपी भी इस मामले को लेकर सड़क पर उतरेगी।

वहीं, दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षा में धांधली के विरोध में आंदोलन कर रहे परीक्षार्थियों की मांग संबंधित मंत्री के समक्ष उठाने का आश्वासन दिया है। वह शनिवार को अन्य भाजपा नेताओं के साथ सीओजी कांप्लेक्स में धरना दे रहे परीक्षार्थियों से मुलाकात की।

तिवारी लगभग एक घटे तक आदोलनकारी परीक्षार्थियों के बीच रहे और उनकी इस मामले में सीबीआइ जांच की मांग सहित अन्य शिकायतें सुनकर उसे हल कराने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि पूरे देश से परीक्षार्थी यहां आकार आंदोलन कर रहे हैं। दिल्ली का सासद होने के नाते मानवीयता के आधार पर उन्होंने परीक्षार्थियों से मिलकर उनकी शिकायतें सुनना उचित समझा। इस मौके पर प्रदेश महामंत्री राजेश भाटिया एवं मीडिया प्रभारी प्रत्यूष कंठ भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here