Paytm का इस्तेमाल करते हैं तो 28 फरवरी तक करें ये काम, नहीं तो अकाउंट हो जाएगा बंद!

0
126

अगर आप भी डिजिटल वॉलिट जैसे पेटीएम और का इस्तेमाल करते हैं तो 28 फरवरी तक आप अपना केवाईसी (नो योर कस्टमर्स) पूरा कर लीजिए, नहीं तो आपको इसके यूज करने में कई परेशानियां आ सकती हैं. आपको बता दें कि RBI की 2 महीने की बढ़ाई गई डेडलाइन अब खत्म होने जा रही है. पर अभी भी KYC जमा करने वाले कस्टमर्स की संख्या बेहद कम है. इससे पहले अक्टूबर में आरबीआई ने 31 दिसंबर 2017 तक यूजर्स का केवाईसी वेरिफिकेशन पूरा करने का आदेश दिया था.
एक्सपर्ट्स का कहना है कि जो केवाईसी पूरी नहीं करेगा, उन ग्राहकों को सिर्फ 10 हजार रुपये तक की ट्रांजेक्शन फैसेलिटी मिलेगी. हालांकि, अगले 12 महीने में उनको भी केवाईसी पूरा करना जरूरी है, नहीं तो अकाउंट भी बंद हो सकता है.

RBI ने अक्टूबर में डिजिटल वॉलिट्स और प्रीपेड इंस्ट्रूमेंट्स के लिए सख्त KYC नियम पेश किया. इसे ऐसे वॉलेट्स के लिए भी अनिवार्य कर दिया गया है, जिसके यूजर्स महीने में 10 हजार रुपये से अधिक लोड नहीं कर सकते. इस शर्त को पूरा नहीं करने वाले वॉलिट्स पर ऑपरेशनल बैन की चेतावनी दी गई थी. अगली स्लाइड में जानिए क्या है आरबीआई का आदेश…

नए कस्टमर को साइनअप के दौरान न्यूनतम केवाईसी जानकारी प्रदान करना आवश्यक है. न्यूनतम केवाईसी जानकारी में ओटीपी सत्यापित मोबाइल नंबर, नाम और कोई भी एक पहचान प्रमाण संख्या (आधार, मतदाता पहचान पत्र, पासपोर्ट, नरेगा कार्ड, पैन और ड्राइविंग लाइसेंस) शामिल है. इन कस्टमर के लिए अधिकतम बैलेंस राशि और मासिक खर्च 10,000 रुपये तक सीमित होगा. वे अन्य वॉलेट या बैंक खातों में पैसे ट्रांसफर नहीं कर सकेंगे. मौजूदा कस्टमर को 28 फरवरी 2018 तक न्यूनतम केवाईसी जानकारी देने की आवश्यकता होगी. अगली स्लाइड में जानिए कैसे कराएं केवाईसी…

पेटीएम पूर्ण केवाईसी करना आसान, सुरक्षित और मुफ्त है. इसे पूरा करने में कम से कम समय लगता है और साथ ही यह कागज रहित प्रक्रिया है. इसमें आधार का उपयोग करते हुए बायोमेट्रिक विवरणों की पुष्टि होती है. रोजाना लाखों लोग पेटीएम पूर्ण केवाईसी प्रक्रिया में भरोसा करते हैं और नीचे दिए गए लाभ का आनंद उठाते हैं. अगली स्लाइड में जानिए केवाईसी करने के क्या हैं फायदे…

अधिकतम वॉलेट सीमा और असीमित खर्च क्षमता: पूर्ण केवाईसी पेटीएम कस्टमर असीमित मासिक खर्च के साथ 1 लाख रुपये का वॉलेट बैलेंस का भी आनंद उठा पाता है. दूसरी ओर, न्यूनतम केवाईसी पेटीएम कस्टमर के पास अधिकतम वॉलेट बैलेंस सीमा और मासिक खर्च सीमा 10,000 रु तक ही सीमित होती है.

निरंतर पैसों का ट्रांसफर : पूर्ण केवाईसी पेटीएम कस्टमर वॉलेट में जमा पैसों को अन्य वॉलेट और बैंक खातों में बिना किसी रुकावट के ट्रांसफर कर सकते हैं. आरबीआई के नए नियमों के अनुसार, न्यूनतम- केवाईसी वॉलेट कस्टमर को एक दूसरे को पैसे भेजने या किसी भी बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. जो कस्टमर निर्धारित समय में अपना पेटीएम पूर्ण केवाईसी पूरा नहीं करेंगे, वो अपने पेटीएम वॉलेट में कैशबैक प्राप्त नहीं कर सकेंगे.पेटीएम पूर्ण केवाईसी करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स का पालन करें

अपने नज़दीकी केवाईसी सेंटर पर जाएं.अपनी पेटीएम ऐप में ऊपर की ओर नीली पट्टी पर “निकटतम केवाईसी प्वाइंट्स” पर टैप करें. अगली स्क्रीन पर, अपने नज़दीकी केवाईसी सेंटर के बारे में जानने के लिए “अपना केवाईसी पूरा करें” पर टैप करें. अपने आधार नंबर और पैन के साथ किसी भी केंद्र पर जाएं और तुरंत अपना पूर्ण केवाईसी कराएं. अपने यहां एजेंट को बुलाने के लिए ऐप पर यहां रिक्वेस्ट करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here