Kumbh mela 2019 : कुंभ मेले के पास मौजूद हैं ये प्रसिद्ध 11 जगहें, जाएं तो घूमें जरूर

0
9

Kumbh mela 2019 : कुंभ मेले के पास मौजूद हैं ये प्रसिद्ध 11 जगहें, जाएं तो घूमें जरूर

कुंभ मेले के आस-पास मौजूद हैं ये प्रसिद्ध 11 जगहें

Kumbh Mela 2019:14 जनवरी मकर संक्रांति (Makar Sankranti) से कुंभ मेला 2019 शुरू हो रहा है. कुंभ में जाने के लिएश्रद्धालु अभी से पैकेज बुककरवा रहे हैं औरकुंभ मेले के सभी स्नानोंका लुत्फ उठाने जा रहे लोग टैंट बुक करवा रहे हैं. मकर संक्रांति (Makar Sankranti) से महा शिवरात्रि (Maha Shivratri) तक चलने वाला ये कुंभ मेला (Kumbh Mela) पूरे 50 दिनों का होगा. लेकिन जो लोग कुंभ (Kumbh) के आंरभ को देखने के साथ-साथ वहां मौजूद प्रसिद्ध स्थानों के भी दर्शन करना चाहते हैं, वो यहां दी गई लिस्ट को देखें.

1. शंकर विमान मण्डपम (Shankar Viman Mandapam) 
त्रिवेणी संगम पर बना यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है. दक्षिण भारतीय शैली का यह मंदिर चार स्तम्भों पर निर्मित है. इसमें कुमारिल भट्ट, जगतगुरु आदि शंकराचार्य, कामाक्षी देवी (चारों ओर 51 शक्ति की मूर्तियां के साथ), तिरूपति बाला जी (चारों ओर 108 विष्णु भगवान) और योगशास्त्र सहस्त्रयोग लिंग (108 शिवलिंग) स्थापित है.

कुंभ के पास मौजूद प्रसिद्ध स्थल

2. श्री वेणी माधव (Shri Beni Madhav)
प्रयागराज के बारह माधव मंदिरों में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध श्री वेणी माधव जी का मंदिर है, जो दारागंज के निराला मार्ग पर स्थित है. मन्दिर में शालिग्राम शिला निर्मित श्याम रंग की माधव प्रतिमा स्थापित है.

कुंभ के पास मौजूद प्रसिद्ध स्थल

3. संकटमोचन हनुमान मंदिर (Sankat Mochan Mandir)
दारागंज मोहल्ले में गंगा जी के किनारे संकटमोचन हनुमान मंदिर स्थित है. शिव-पार्वती, गणेश, भैरव, दुर्गा, काली एवं नवग्रह की मूर्तियां भी इस मंदिर परिसर में स्थापित हैं.

कुंभ के पास मौजूद प्रसिद्ध स्थल

4. मनकामेश्वर मंदिर (Mankameshwar Mandir)
मिन्टो पार्क के पास मौजूद है मनकामेश्वर मंदिर . यहां काले पत्थर की भगवान शिव का एक लिंग और गणेश एवं नंदी की मूर्तियां हैं. यहां हनुमान जी की एक बड़ी मूर्ति भी है और मंदिर के निकट एक प्राचीन पीपल का पेड़ है.

कुंभ के पास मौजूद प्रसिद्ध स्थल

5. भारद्वाज आश्रम (Bharadwaj Ashram)
मुनि भारद्वाज के समय यह एक प्रसिद्ध शिक्षा केन्द्र था. मान्यता है कि भगवान राम अपने वनवास पर चित्रकूट जाते समय सीता जी एवं लक्ष्मण जी के साथ इस स्थान पर आये थे.

कुंभ के पास मौजूद प्रसिद्ध स्थल

6. विक्टोरिया स्मारक (Victoria Smarak)
रानी विक्टोरिया को समर्पित है यह स्मारक. इसे 24 मार्च, 1906 को जेम्स डिगेस ला टच ने खोला. ये स्मारक इटालियन चूना पत्थर से बना है.

कुंभ के पास मौजूद प्रसिद्ध स्थल

7. प्रयाग संगीत समिति (Prayag Sangeet Samiti)
भारतीय शास्त्रीय संगीत पढ़ाने और लोकप्रिय बनाने की सोच के साथ 1926 में इस समिति को बनाया गया.

कुंभ के पास मौजूद प्रसिद्ध स्थल

8. इलाहाबाद विश्वविद्यालय (Allahabad University)
23 सितम्बर, 1887 को स्थापित यह कलकत्ता, बाम्बे और मद्रास यूनिवर्सिटी के बाद यह चौथा सबसे पुराना विश्वविद्यालय है. इसे यूनाइटेड प्राविन्स के लेफ्टिनेंट गवर्नर सर विलियम म्योर ने बनाया.

कुंभ के पास मौजूद प्रसिद्ध स्थल

9. पब्लिक लाइब्रेरी (Public Library)
प्रयागराज की सबसे पुरानी लाइब्रेरी चन्द्रशेखर आजाद पार्क इसी पब्लिक लाइब्रेरी के भीतर मौजूद है. इसमें ऐतिहासिक पुस्तकों और पत्रिकाओं का बड़ा कलेक्शन मौजूद है.

कुंभ के पास मौजूद प्रसिद्ध स्थल

10. गंगा गैलरी (राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी) (Ganga Gallery)
यह गैलरी गंगा नदी की धार्मिक, सांस्कृतिक, सामाजिक-आर्थिक एवं वैज्ञानिक पक्ष को प्रकाशित करती है. यह वैज्ञानिक दृष्टि का प्रयोग करती है.

कुंभ के पास मौजूद प्रसिद्ध स्थल

11. श्री अखिलेश्वर महादेव (Shri Saccha Akhileshwar Mahadev)
प्रयागराज के रसूलाबाद घाट के पास अखिलेश्वर महादेव संकुल फैला हुआ है. इसकी आधारशिला 30 अक्टूबर, 2004 को चिन्मय मिशन के स्वामी तेजोमयनन्दजी और सुबोधानन्द जी ने रखी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here