12th बोर्ड एग्जाम में अफजल गुरु के बेटे गालिब ने 88% मार्क्स हासिल किए, सभी सब्जेक्ट्स में डिस्टिंक्शन

0
224

श्रीनगर.संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु के बेटे गालिब (17) ने 12th बोर्ड एग्जाम में डिस्टिंक्शन हासिल किया। गुरुवार को आए जम्मू-कश्मीर बोर्ड एग्जाम के नतीजों में उसने 88% मार्क्स हासिल किए। दो साल पहले गालिब ने हाई स्कूल का एग्जाम भी 95% अंकों के साथ पास किया था। तब उसने कहा था कि वह डॉक्टर बनकर परिवार का सपना पूरा करना चाहता है। बता दें कि आतंकी अफजल 17 साल पहले संसद पर हुए हमले में शामिल था, उसे 9 फरवरी 2013 में फांसी दी गई थी।

डॉक्टर बनना चाहता है गालिब

– अफजल गुरु के बेटे गालिब को सभी सब्जेक्ट में डिस्टिंक्शन मिली। उसने 88% मार्क्स के साथ हायर सेकेंडरी एग्जाम पास की। गालिब को कुल 500 में से 441 अंक मिले। उसने इन्वॉयरमेंट साइंस में 94, केमिस्ट्री में 89, फिजिक्स में 87, बायोलॉजी में 85 और इंग्लिश में 86 मार्क्स हासिल किए हैं।

– 2016 में हाई स्कूल परीक्षा अच्छे अंकों से पास करने के बाद गालिब ने कहा था, ”मैं मेडिकल फील्ड में करियर बनाना चाहता हूं। अच्छा न्यूरोलॉजिस्ट बनकर परिवार का सपना पूरा करना चाहता हूं। क्योंकि मुझे चमत्कारों से लगाव है। अब्बू मुझे हमेशा पढ़ाई पर ध्यान देने के लिए कहते थे।”

गालिब को मिल रही बधाइयां

– गालिब गुरु की इस कामयाबी को लेकर लोग सोशल मीडिया पर उसे बधाई दे रहे हैं। नतीजों के एलान के बाद बारामूला के सोपोर में उसके घर पर बधाई देने वाले दोस्तों और रिश्तेदारों की भीड़ लग गई।
– नेशनल कॉन्फ्रेंस के स्पोक्सपर्सन, सराह हयात ने ट्वीट किया, ”गालिब गुरु ने 12वीं की एग्जाम में बड़ी कामयाबी हासिल की। उसे 441 अंक मिले। उनके परिवार को बधाई।”

अफजल ने छोड़ दी थी मेकिडल की पढ़ाई

– संसद पर आतंकी हमले से पहले अफजल गुरु भी मेडिकल की पढ़ाई कर रहा था, लेकिन उसने पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी। 13 दिसंबर, 2001 को हमले के बाद उसे अरेस्ट किया गया।
– बाद में कोर्ट ने अफजल को संसद पर हमले का दोषी करार दिया। 9 फरवरी, 2013 को उसे फांसी दी गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here