हज यात्री अब समुद्री मार्ग से भी जा सकेंगे मक्का

0
112

सादिक़ जलाल, नई दिल्ली। देश से हज यात्री करीब दो दशक बाद अब समुद्री मार्ग से मक्का जा सकेंगे. अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि सऊदी अरब की सरकार ने समुद्री मार्ग से हज यात्रा के भारत के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है.

अब दोनों देशों के अधिकारी इसके लिए जरूरी औपचारिकताओं और तकनीकी पहलुओं पर विचार -विमर्श करेंगे ताकि आने वाले वर्षों में समुद्री मार्ग से हज यात्रा शुरू की जा सके.
आधिकारिक बयान के मुताबिक कल सऊदी अरब के मक्का में नकवी ने सऊदी अरब के हज एवं उमरा मंत्री डॉ मुहम्मद सालेह बिन ताहिर बिनतेन के साथ हज-2018 के सम्बन्ध में द्विपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर किया। इस दौरान सऊदी अरब सरकार ने भारत से पानी के जहाज से हज यात्रा दोबारा शुरू किये जाने को हरी झंडी दे दी। नकवी ने कहा कि, “हज यात्रियों का मुंबई से समुद्री मार्ग के जरिए जेद्दा जाने का सिलसिला 1995 में रुक गया था। हज यात्रियों को जहाज (समुद्री मार्ग) से भेजने पर यात्रा संबंधी खर्च काफी कम हो जायेगा।” उन्होंने कहा कि, नई तकनीक एवं सुविधाओं से युक्त पानी के ये जहाज एक समय में चार से पांच हजार लोगों को ले जाने में सक्षम हैं। मुंबई और जेद्दा के बीच की दूरी 2,300 समुद्री मील है।

एक तरफ की दूरी सिर्फ तीन-चार दिन में पूरी की जा सकती है, जबकि पहले पुराने जहाज से 12 से 15 दिन लगते थे।”
मंत्री ने बताया कि, “पानी के जहाज से भी हज यात्रा को दोबारा शुरू किये जाने पर पिछले वर्ष पोत परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से उनकी बैठक हुई थी।” नकवी ने कहा, पानी के जहाज से हज यात्रा शुरू करने के मुद्दे पर भारत और सऊदी अरब के अधिकारी सभी तकनीकी पहलुओं पर विस्तार से चर्चा करेंगे और हमारी कोशिश है कि आने वाले वर्षों में भारत से पानी के जहाज से हज यात्रा दोबारा शुरू की जा सके। उन्होंने कहा कि, इस बार हज 2018 शत प्रतिशत डिजिटल ऑनलाइन कर दिया गया है। भारत की इस पारदर्शी, सरल एवं डिजिटल हज व्यवस्था की सऊदी अरब सरकार ने सराहना की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here