‘स्टाइलिश दाढ़ी’ पर पाकिस्तान में बवाल, गैर इस्लामिक बताकर विरोध में काउंसिल

0
117

इस्लामाबाद। आजकल न केवल लड़कियां, बल्कि लड़के भी अपने लुक को लेकर काफी सजग हो गए। कपड़े और हेयरस्टाइल से लेकर लड़कों में अपने बीयर्ड यानी दाढ़ी को संवारने का क्रेज भी काफी बढ़ गया है। आजकल अधिकतर युवा अपनी दाढ़ी को अलग-अलग शेप और स्टाइल में रखना पसंद करते हैं लेकिन अब पाकिस्तान में युवा ऐसा नहीं कर पाएंगे। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में डेरा गाजी खान जिला परिषद ने स्टाइलिश दाढ़ी को बैन करने के लिए प्रस्ताव पास पारित किया है।

स्टाइलिश दाढ़ी तो बताया इस्लाम के खिलाफ
पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में डेरा गाजी खान जिला परिषद ने युवाओं द्वारा रखी जा रही स्टाइलिश दाढ़ी को बैन करने के लिए एक प्रस्ताव पास किया है। इस प्रस्ताव को पेश करने वाले आसिफ खोसा ने कहा, ‘आजकल युवा फैशन के नाम पर दाढ़ी को अलग-अलग शेप और डिजाइन में रख रहे हैं। ये इस्लाम की शिक्षा के खिलाफ है।’ ये प्रस्ताव बहूमत से पास किया गया और आगे की प्रक्रिया के लिए डिप्टी कमिश्नर को भेज दिया गया है।
उठी ट्रेंड पर बैन लगाने की मांग
इस प्रस्ताव में मांग की गई है कि डेरा गाजी खान डिप्टी कमिश्नर इस ट्रेंड पर बैन लगाएं। इसके अलावा ये भी मांग उठाई गई है कि दाढ़ी को स्टाइलिश बनाकर उसका मजाक बनाने वालों पर सख्त कार्यवाई की जाए। ये पहली बार नहीं है जब पाकिस्तान में दाढ़ी या मूंछ पर बवाल हुआ हो। इससे पहले एक टीचर को अपनी परफेक्ट मूंछों के कारण नौकरी से हाथ धोना पड़ा था।
‘स्टाइलिश मूंछों’ के कारण गंवानी पड़ी थी नौकरी
हसीब अली चिश्ती नाम के ये शख्स बच्चों को ड्रामा सिखाते हैं। इन्हें इनके स्कूल ने ये कह कर निकाल दिया क्योंकि ये कुछ ज्यादा ही स्मार्ट हैं और उनकी मूछें बच्चों को लिबरल आइडियाज देते हैं और उनकी स्मार्टनेस से लड़कियों का ध्यान भटक सकता है। इसपर हसीब ने लिखा था, ‘मैं देख रहा हूं कि स्कूल में ऐसे मामले बढ़ते जा रहे हैं जहां बच्चों को दूसरे सेक्स से बात करने के लिए सजा दी जाती है। ये लोग अपनी रूढ़िवादी मानसिकता में गर्व महसूस करते हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here