‘योगी सरकार ज़ालिम जनरल डायर बन गई है’

0
98

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में अपने हक की लड़ाई लड़ रहे बीएड, टीईटी धारकों पर मंगलवार को पुलिस ने बर्बरता पूर्वक लाठी चार्ज कर दिया, जिसके सैकड़ों लोग घायल हुए हैं। घायलो में कई महिलाएं बुरी तरह के जख्मी हुई हैं। पुलिस की इस बर्बर कार्रवाई के कारण पुलिस प्रशासन के साथ-साथ प्रदेश की योगी सरकार भी सवालों के घेरे में हैं।

मामाले को लेकर विपक्ष सरकार की कड़ी आलोचन करते हुए लाठीचार्ज करने वाले पुलिस के जवानों और अधिकारियों को जेल में डालने की मांग की जा रही है। मामले को लेकर योगी सरकार पर हमला बोलते हुए दिल्ली की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद संजय ने योगी सरकार को जनरल डायर तक करार दे दिया।

संजय सिंह ने ट्विटर पर कुछ तस्वीरें पोस्ट करते हुए लिखा कि, “योगी सरकार ज़ालिम जनरल डायर बन गई है, अपना हक़ माँगने वाले बी॰एड॰, टी॰ई॰टी॰ धारकों पर बर्बरता पूर्वक लाठी चार्ज निंदनीय है, गुंडागर्दी करने वाले पुलिस कर्मियों को जेल में डालो”। आपको बता दें कि प्रदर्शनकारी पहले ईको गार्डन में अपनी मांगों को लेकर धरना दे रहे था।

लेकिन इनकी बात कोई सुनने को भी तैयार नहीं था, लिहाजा इन लोगों ने पुलिस को चकमा देकर विधानभवन की ओर कूच कर दिया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस और पीएसी जवानों ने घेराबंदी की, हालांकि इस दौरा पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच टकराव हो गया। जिसके बाद पुलिस ने इन्हें बर्बर तरीके से पिटा, जिसमें करीब 100 लोगों के घायल होने की खबर है।

मामले में काफी देर तक चले बवाल के बाद डीएम कौशलराज शर्मा ने मोर्चे के प्रतिनिधि मंडल को भरोशा दिलाया कि बुधवार दोपहर 2 बजे तक उनकी मुलाकात मुख्यमंत्री से कराई जाएगी। जिसके बाद हालात काबू में हो सका। प्रदर्शन का नेतृत्व मान बहादुर सिंह कर रहे थे, जिन्होंने झड़प के दौरान घायल लोगों की बात करते हुए बताया कि लाठीचार्ज में कानपुर, लखनऊ, रायबरेली के लोगो घायल हुए हैं। वहीं इस दौरान कुछ पुलिसकर्मी भी चोटिल हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here