यूज करते हैं ऑनलाइन बैंकिंग तो हो जाए सावधान, वरना फंस जाएगा पैसा

0
39

अगर आप भी अपनी सारी ट्रांजैक्शन के लिए फोन का इस्तेमाल करने लगे हैं तो थोड़ा सावधानी बरतें. डेबिट, क्रेडिट कार्ड, ई-वॉलेट के सहारे मोबाइल ट्रांजैक्शन में धोखाधड़ी के बढ़ते मामले से सरकार भी चिंतित है. गृह मंत्रालय ने इस पर चिंता जताते हुए गुरुवार को कहा कि सभी राज्यों को इस तरह के अपराधों को रोकने के लिए तत्काल कार्रवाई करनी चाहिए.

गृह मंत्रालय ने भी दिया अल्टीमेटम
मंत्रालय ने खुफिया ब्यूरो (आईबी) को राज्य सरकार के साथ मिलकर काम करने के लिए नोडल एजेंसी नामित किया है. एक सूचना में गृह मंत्रालय ने कहा कि यह संज्ञान में आया है कि मोबाइल फोन और ई-वॉलेट का इस्तेमाल कर फाइनैंशल ट्रांजैक्शन में धोखाधड़ी के मामले बढ़ रहे हैं. इस तरह की धोखाधड़ी करने वाले लोग विभिन्न तरीके इस्तेमाल कर रहे हैं.

नहीं शेयर करें अपना पिन और ओटीपी
मंत्रालय ने कहा कि आम लोगों द्वारा डिजिटल भुगतान बढ़ने की वजह से फोन धोखाधड़ी बढ़ रही है. विशेषरूप से डेबिट और क्रेडिट कार्ड और ई-वॉलेट के इस्तेमाल के जरिए धोखाधड़ी के मामलों में इजाफा हो रहा है. मंत्रालय का कहना है कि कुछेक मामलों में लोग खुद ही गलती से एटीएम पिन या ओटीपी बता देते हैं और धोखाधड़ी का शिकार बनते हैं. बयान में कहा गया है कि मंत्रालय इस तरह की धोखाधड़ी के मामलों से चिंतित है.

मंत्रालय के तहत फोन धोखाधड़ी पर एक समिति का गठन किया गया है जो कि समय-समय पर इससे जुड़े विभिन्न पहलुओं की समीक्षा कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here