भारत में तेजी से फ़ैल रहा हैं ये रोग, इस बीमारी से मुक्ति के लिए अपनाएँ ये घरेलु उपाय।

0
192

नई दिल्ली, 9 फरवरी :आज-कल लोग तरह-तरह की बिमारियों से ग्रसित होते जा रहे हैं। अपेंडिक्स एक ऐसी ही बीमारी है जो इस समय बहुत तेजी से फ़ैल रही है। इसका कारण गलत खान-पान और बदलती लाइफस्टइल हैं। अपेंडिक्स हमारे पेट में आंत का हिस्सा होता हैं जिसे अपेंडिसाइटिस कहते हैं। अपेंडिक्स पेट के दाईं तरफ नीचे की ओर होती हैं। अगर इसमें कोई इंफेक्शन हो तो सूजन आ जाती हैं जिससे दर्द होने लगता हैं।

जैसे-जैसे ये सूजन बढ़ती जाती हैं दर्द भी बढ़ता जाता हैं और अंत में इसका उपचार ऑपरेशन पर आकर ख़त्म होता हैं। इसे पेट से बाहर निकाला जाता हैं पर इसके लक्षणों को पहचान कर समय रहते ही उपाय कर लिया जाए तो इस बीमारी से छुटकारा पा लिया जाता हैं। अपेंडिक्स के उपचार के लिए देशी नुस्खे काफी कारगर हैं लेकिन, अगर परेशानी बहुत बढ़ गई तो ऑपरेशन ही इसका एकमात्र ईलाज हैं।

अपेंडिक्स होने के कारण हैं -कब्ज रहना, आँतों में भोजन के कणों का जाना, भोजन में फाइबर की मात्रा का कम होना, फलों के बीज का अपेंडिक्स में फंसना, अपेंडिक्स में गाँठ या कैंसर की बीमारी का होना। अपेंडिक्स के लक्षण के प्रकार -पेट में नाभि के आस-पास दर्द महसूस होना, उल्टी आना, जी मिचलना, पेट में सूजन, भूख न लगना, बुखार आना, गैस बनना और पेशाब करने में परेशानी होना अपेंडिक्स के लक्षण हैं।


अपेंडिक्स का आकार ऐसा होता है कि इसका एक तरफ का हिस्सा खुला होता हैं और दूसरा हिस्सा बंद। कई बार भोजन करते समय कुछ कण अपेंडिक्स में चले जाते हैं जिसके कारण पेट में इंफेक्शन हो जाता हैं और अपेंडिक्स में सूजन आ जाती हैं।

घरेलु उपाय –अदरक सूजन को कम करने के लिए काफी फायदेमंद हैं। अदरक वाली चाय का दो से तीन बार सेवन करें या फिर पेट पर मसाज के लिए अदरक के तेल का उपयोग करें। तुलसी का सेवन अपेंडिक्स में रामबाण इलाज हैं। रोजाना तीन से चार पता तुलसी के चबाने से इसमें बहुत लाभ मिलता हैं। पेट की समस्याओं को दूर करने के लिए पुदीना एक अच्छा उपाय हैं। पुदीने की चाय से अपेंडिक्स के दर्द में आराम मिलता हैं।

पालक का साग आँतों की बीमारी के इलाज में बहुत कारगर हैं। इस समस्या से पीड़ित व्यक्ति को खान-पान का विशेष ध्यान रखना चाहिए। खाना खाने से पहले एक टमाटर काटकर उसमे सेंधा नमक छींटकर खाएं। इससे कुछ देर बाद ही पेट में दर्द और सूजन कम होने लगेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here