भारत को क्लीनस्वीप करने के लिए मेजबान अफ्रीका ने चला विराट के साथ ऐसा चाल कि भारत का हारना तय

0
102

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की हाई वॉल्टेज टेस्ट सीरीज के पहले दो टेस्ट मैचों में मेजबान दक्षिण अफ्रीका ने टेस्ट की बेस्ट टीम भारत को बुरी तरह से मात दी है। दक्षिण अफ्रीका ने इस तरह सी तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में पहले से ही 2-0 की अजेय बढ़त को बना लिया है।

दक्षिण अफ्रीका इस टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम का पूरी तरह से सफाया करने के लिए पूरी तरह से तैयार है तीसरा और अंतिम टेस्ट मैच 24 जनवरी से जोहानिसबर्ग में खेला जाना है।
जोहानिसबर्ग के क्यूरेटर ने मैच से पहले भारतीय खेमे में मचाई हलचल

जोहानिसबर्ग में बुधवार से शुरू होने वाले तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच में जहां भारतीय टीम सम्मान बचाने को लेकर देख रही है तो वहीं भारतीय टीम के इस अरमानों पर भी झटका लग सकता है जब वो ये जान लेंगे कि जोहान्सबर्ग का विकेट पूरी तरह से तेज और उछाल से भरा होगा। ये हम नहीं कह रहे हैं बल्कि खुद जोहान्सबर्ग के वानडर्स मैदान के पिच क्यूरेटर कह रहे हैं।
जोहान्सबर्ग की पिच पर दिखेगा जबरदस्त बाउंस और पेस

जोहान्सबर्ग के पिच क्यूरेटर बुथेलजई ने जैसे ही इस टेस्ट मैच के लिए पिच को तेज और उछाल से भरी बताया जो जहां दक्षिण अफ्रीका खेमा तो खुश हो गया होगा वहीं विराट एंड कंपनी को इस बात का मलाल रहेगा कि जहां सेंचुरियन में खेला गया दूसरे टेस्ट मैच धीमी पिच पर था वहां पर फायदा नहीं उठा सके। ऐसे में जोहान्सबर्ग की पिच पर मौका मिल पाना मुश्किल होगा।

पिच पर छोड़ी गई है हरी घास

जोहान्सबर्ग के पिच क्यूरेटर बुथेलजई ने कहा कि ” मैंने इस पर पर्याप्त हरी घास को छोड़ी है और मैच से पहले फिर से इस पर घास नहीं छोड़ना होगा। इस मैच से पहले हम पिच पर फिर से पानी देंगे, इस घास को धूप से जलने की तो कोई संभावना नहीं रहेगी। क्योकि मैदान में अच्छी तरह से पानी पिलाया गया है।”
पिच पर दिखेगी जबरदस्त गति और उछाल

इसके साथ ही बुथलेजई ने आगे कहा कि ” मैंने दक्षिण अफ्रीकी टीम की मांगो को सुन लिया है और उन्ही के अनुसार ये पिच तैयार की है। यहां पर कोई स्पिन उपलब्ध नहीं रहेगी। लेकिन वहीं यहां पर पर्याप्त मात्रा में गति और उछाल देखी जाएगी जिसके लिए ये मैदान अच्छी तरह से जाना जाता है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here