बेटी को फिर से जिंदा करने के लिए 45 दिन चली घर में तांत्रिक क्रिया

0
230

सवाई माधोपुर। जिले के गंगापुर सिटी उपखंड के खारी बाजार के चमन गली मोहल्ले में एक तांत्रिक खेल सामने आया जिसमें 6 तांत्रिकों द्वारा 45 दिन पूर्व गंगापुर सिटी की रहने वाली अनीता राजपूत उम्र करीब 35 वर्ष जिसकी मौत डेढ़ माह पूर्व हो चुकी थी जिसके बाद मृतका के पिता तारा सिंह और मां उर्मिला को किसी ने तंत्र विद्या के माध्यम से मृत बेटी को फिर से जिंदा करने की बात कही जिस पर तांत्रिकों के झांसे में आकर मृतका के शव का दाह संस्कार नहीं करते हुए उसके साथ 45 दिनों से अपने ही घर में तांत्रिक तंत्र विद्या करते रहे जिसमें तांत्रिकों द्वारा इन 45 दिनों के भीतर उसे जिंदा करने के लिए काफी पैसों की भी ठगी करना सामने आया और इस तरह लगातार हर रोज पूजन सामग्री मंगाते और उसे जिंदा करने का आश्वासन देते रहे। जिस पर परिजन उसके जिंदा होने का इंतजार करते रहे। इस बात को लेकर मृतका के पिता ताराचंद को उनके बेटे ने काफी बार समझा,लेकिन वे तंत्र विद्या के जाल में ऐसे फंसे कि उन्हें बेटी के जिंदा होने की उम्मीद लगी रही और इस बात पर वे अपने दोनों बेटों को भी घर से बेदखल कर चुके थे जिस पर दोनों बेटे आस-पास ही किराए के मकान में रह कर अपना गुजर बसर करने लगे, लेकिन मृतका की छोटी बहन वहां मां-बाप के पास ही रहती थी जिसकी पूजा आज 28 फरवरी को जिंदा करने के लिए तांत्रिक और मृतक के परिजन करने लगे तांत्रिकों द्वारा होली के पर्व के बीत जाने के बाद मतलब 2 दिन बाद मृतका अनीता का फिर से जिंदा हो जाने की बात कहने लगे जिस पर लाखों रुपए की सामग्री भी मृतका के परिजन से तांत्रिकों ने मंगवाई जिस पर उन्होंने मंगाई हुई सामग्री और अन्य खर्चों के लिए कुछ पैसे उन तांत्रिकों को सौंप दिए जिसकी सूचना मृतका की छोटी बहन ने अपने भाई को दी जिस पर भाई ने वहां जाकर अपने मां-बाप को समझाया तो पिता ने उनको घर में घुसने से रोक दिया, जिस पर भाई ने नजदीकी गंगापुर सिटी कोतवाली पुलिस को सूचना दी और जिस पर उपाधीक्षक नरेंद्र सिंह व कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और मौके पर तंत्र विद्या कर रहे तांत्रिकों को गिरफ्तार किया जिसमें सड़ी गली लाश पुलिस को तारा सिंह के मकान में पड़ी मिली जिसके साथ तंत्र विद्या की सामग्रियां भी पुलिस ने बरामद की, जिस पर कोतवाली पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम कराया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here