बिहार बोर्ड: मैट्रिक परीक्षा आज से शुरू, पहली बार OMR पर पेपर देंगे स्टूडेंट्स

0
44

बिहार बोर्ड मैट्रिक की परीक्षा बुधवार से शुरू हो रही है। पहली बार छात्र ओएमआर पर परीक्षा देंगे। राज्यभर में 1426 केंद्रों पर कुल 17 लाख 70 हजार 42 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होंगे। इसमें 8 लाख, 91 हजार 243 छात्र और 8 लाख 78 हजार 794 छात्राएं हैं। परीक्षार्थियों को आधा घंटा पहले केन्द्र पर पहुंचना होगा। यानी पहली पाली में 9.30 बजे के बाद प्रवेश नहीं मिलेगा। इसी तरह दूसरी पाली में डेढ़ बजे के बाद प्रवेश बंद कर दिया जाएगा। प्रश्नपत्र पढ़ने के लिए 15 मिनट दिए जाएंगे। पहले दिन अंग्रेजी विषय की परीक्षा होगी। परीक्षा दो पाली में ली जायेगी। वहीं परीक्षा को कदाचार मुक्त बनाने के लिए पूरी तैयारी की गई है। परीक्षा केंद्रों के आसपास धारा 144 लागू कर कर दी गई है।

केंद्रों पर चप्पल पहनकर जाएं, जूता-मोजा पहनकर आनेवाले परीक्षार्थियों को नहीं मिलेगा प्रवेश
परीक्षा शुरू होने के आधा घंटा पहले केंद्र पर पहुंचे, प्रश्नपत्र पढ़ने के लिए मिलेंगे 15 मिनट
बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि कदाचारमुक्त परीक्षा के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। परीक्षा केंद्र पर कोई भी व्यक्ति कैमरे वाला फोन नहीं रख सकता है। सभी केंद्राधीक्षकों को बिना कैमरे वाले फोन दिए गए हैं। सभी केंद्रों की विडियोग्राफी भी करवाई जायेगी। कोई भी पदाधिकारी, कर्मी, केंद्राधीक्षक, दंडाधिकारी, पुलिसकर्मी या अन्य व्यक्ति परीक्षा के दौरान कदाचार में लिप्त पाए गए तो उन पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। साथ में उन्हें सेवा से बर्खास्त किया जाएगा। तीन स्तर पर मजिस्ट्रेट की तैनाती की गयी है।

50 फीसदी वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे प्रश्नपत्र में
28 फरवरी तक चलेगी बिहार बोर्ड मैट्रिक की परीक्षा
जूता-मोजा पहनकर आनेवाले छात्रों को नहीं मिलेगा प्रवेश : जूता-मोजा पहनकर आनेवाले परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र पर प्रवेश नहीं मिलेगा। बिहार बोर्ड ने परीक्षार्थियों को चप्पल पहन आने की सलाह दी है। बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि प्रत्येक 25 परीक्षार्थी पर एक वीक्षक होंगे। सघन तलाशी के बाद ही केंद्र पर प्रवेश मिलेगा। वहीं पहली बार बिहार बोर्ड ने हर जिले में चार-चार आदर्श केंद्र बनाया है। पटना में पांच आदर्श केंद्र बनाए गए हैं।

मैट्रिक परीक्षा में पहली बार ओएमआर लागू किया गया है। 50 फीसदी वस्तुनिष्ठ प्रश्न के उत्तर के लिए छात्रों को डेढ़ घंटे का समय दिया जाएगा। पहले छात्रों को वस्तुनिष्ठ प्रश्न के उत्तर देने होंगे। उत्तर को ओएमआर पर भरना होगा। प्रथम पाली का ओएमआर 11 बजे और दूसरी पाली का ओएमआर 3.30 बजे ले लिया जाएगा।
एडमिट कार्ड खो जाने पर उपस्थिति पत्रक से कराएं मिलान
बिहार बोर्ड ने उन परीक्षार्थियों के लिए सुविधा दी है जिनका एडमिट कार्ड खो गया हो या फिर त्रुटि रह गई हो। बिहार बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने कहा कि सभी केंद्रों को निर्देश दिए गए हैं कि ऐसे परीक्षार्थी की पहचान उपस्थिति पत्रक से की जाएगी। उपस्थित पत्रक के स्कैन फोटो, रौल नंबर, रौल कोड और हस्ताक्षर पर परीक्षार्थी शामिल हो पाएंगे। ऐसे परीक्षार्थियों की संबंधित रिपोर्ट केंद्राधीक्षक द्वारा बाद में बोर्ड को भेज दी जाएगी।

कदाचारमुक्त परीक्षा को लेकर कड़े इंतजाम
छात्र और वीक्षक को मोबाइल या किसी इलेक्ट्रॉनिक सामान लेकर जाने पर रोक
परीक्षा केंद्रों पर सीआरपीएफ के जवान तैनात होंगे
परीक्षा केंद्रों की 200 मीटर की परिधि में धारा 144 लागू
सभी केंद्रों पर सीसी कैमरे से निगरानी
मुख्य गेट और बैठने के बाद परीक्षा हॉल में गहन जांच
केंद्र के आसपास फोटो कॉपी की दुकानें बंद रहेंगी
25 छात्र पर एक वीक्षक होंगे, जांच के बाद वीक्षक को प्रमाण पत्र देने होंगे

परीक्षार्थी इन बातों का रखें ध्यान
परीक्षा शुरू होने के आधा घंटा पहले पहुंच जाएं
वस्तुनिष्ठ प्रश्न के ओएमआर में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है
इस बार उत्तर पुस्तिका के साथ ओएमआर दी जायेगी
ओएमआर में तीन भाग होंगे, परीक्षार्थी को पहला और तीसरा भाग भरना है
ओएमआर का मध्य भाग परीक्षार्थी को नहीं भरना है
उत्तरपुस्तिका फटी या मुड़ी हुए मिले तो उसे तुरंत वीक्षक को सूचित कर बदल लें
ओएमआर नीले और काले रंग के बॉल पेन से ही भरें
ओएमआर पर टिक ना लगाएं
व्हाइटनर का इस्तेमाल बिल्कुल ना करें
मैट्रिक परीक्षा के लिए कंट्रोल रूम
टेलीफोन नंबर – 0612-2230051, 2221320
फैक्स नंबर – 0612-2222575
ई-मेल coe.matricbseb@gmail.com

मैट्रिक परीक्षा संबंधित जानकारी
कुल परीक्षार्थी – 17, 70,042
परीक्षा चलेगा – 21 से 28 फरवरी तक
छात्रों की संख्या – 8,91,243
छात्राओं की संख्या – 8,78, 794

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here