चारा घोटाला: जेल में कुछ इस तरह गुजरा लालू यादव का वक्त

0
242

लालू के पास वाली सेल में राजा पीटर, कमल किशोर भगत, संजीव सिंह, सावना लकड़ा हैंराजा पीटर पूर्व मंत्री हैं. कमल किशोर पूर्व विधायक तो संजीव मौजूदा विधायक हैं.

नई दिल्ली: चारा घाटोला में रांची की विशेष सीबीआई अदालत ने लालू यादव समेत 17 लोगों दोषी पाया था. जज के फैसले के बाद लालू यादव को तुरंत पुलिस ने हिरासत में लिया. लालू यादव को रांची की बिरसा मुंडा जेल ले जाया.

जेल पहुंचने के बाद लालू को अपर डिवीज़न सेल का कॉटेज दिया गया. इस कॉटेज में लालू सितंबर- दिसम्बर 2013 से बीच भी रहे थे. मधु कोड़ा भी इस कॉटेज में साढ़े तीन साल गुजार चुके हैं.

जेल में आने के बाद लालू यादव के पहले मुलाकाती उनके बेटे तेजस्वी यादव बने. पिता की खराब सेहत और उम्र का हवाला देते हुए तेजस्वी ने लालू से मिलने की इजाजत मांगी थी. जेल में पिता पुत्र तकरीबन एक घंटे साथ रहे. बाद में लालू ने तेजस्वी को लौट जाने को कहा.जेल में आने के बाद लालू यादव के पहले मुलाकाती उनके बेटे तेजस्वी यादव बने. पिता की खराब सेहत और उम्र का हवाला देते हुए तेजस्वी ने लालू से मिलने की इजाजत मांगी थी. जेल में पिता पुत्र तकरीबन एक घंटे साथ रहे. बाद में लालू ने तेजस्वी को लौट जाने को कहा.

मेडिकल जांच के बाद लालू अपने कॉटेज में चले गए, यहां उन्होंने जेल मैनुअल के अनुसार अपने लिए हल्के भोजन की मांग की. रात में उन्हें आलू-पालक की सब्ज़ी और रोटी दी गई.

लालू के पास वाली सेल में राजा पीटर, कमल किशोर भगत, संजीव सिंह, सावना लकड़ा हैंराजा पीटर पूर्व मंत्री हैं. कमल किशोर पूर्व विधायक तो संजीव मौजूदा विधायक हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here