इस तरह की स्त्री होती है बहुत ख़तरनाक,कर देगी आपके पुरे कुल का नाश

0
185

चाणक्य ने महिलाओं के बारे में काफी कुछ कहा है उनका स्वभाव, उनकी फितरत, उनकी सोच और वे किस समय किस तरह से बर्ताव करती हैं, इन बातों पर खास अध्ययन किया है चाणक्य ने। आचार्य चाणक्य के अनुसार सुंदरता ही सब कुछ नहीं होती यदि कोई पुरुष केवल स्त्री की सुंदरता देखकर उसे परखता है और उसी के आधार पर उसे पसंद करके विवाह कर लेता है, तो उससे बड़ा मूर्ख इस पूरे जग में कोई नहीं है। आचार्य चाणक्य ने अपने इस श्लोक में स्त्री के संस्कार पर खास महत्व दिया है वे कहते हैं कि अच्छे संस्कारों वाली स्त्री घर को स्वर्ग बना देती है, वह पति और उसके पूरे परिवार का ख्याल रखती है लेकिन बुरे संस्कारों वाली स्त्री सब तहस-नहस कर देती है। ऐसी स्त्री अधार्मिक होती है, वह रिश्तों पर विश्वास नहीं करती पल-पल वह रिश्तों को तोड़ने का विचार करती है ऐसी स्त्री परिवार के सुख के बारे में विचार नहीं करती, बल्कि सभी को दुख पहुंचाती है। ऐसे चरित्र वाली स्त्री ना केवल विवाह के रिश्ते को खराब करती है, बल्कि पूरे कुल का नाश करती है वह उस पूरे परिवार को समाज के सामने बेइज्जत करती है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here