इस अंदाज़ में मिले कुलभूषण जाधव अपनी मां और पत्नी से

0
164

पाकिस्तान में जासूसी के आरोप में फांसी की सज़ा पाने वाले भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव सोमवार को इस्लामाबाद में अपने घरवालों से मिले.

उनकी मां और उनकी पत्नी को उनसे बात करने का मौका मिला है. पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने इस मुलाकात की तस्वीरें जारी की हैं.

मौक़े पर मौजूद  संवाददाता  ने बताया कि काफ़ी गंभीर दिख रहीं जाधव की मां और पत्नी ने मीडिया से कोई बात नहीं की. दोनों महिलाएं सिर्फ़ ‘नमस्ते’ बोलकर इमारत के अंदर चली गईं.

कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी सोमवार को इस्लामाबाद पहुंचीं. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने बताया कि मुलाक़ात के बाद कुलभूषण की मां और पत्नी सोमवार को ही भारत वापस लौट जाएंगे.

इस मुलाक़ात में इस्लामाबाद में भारत के उप उच्चायुक्त जेपी सिंह उनके साथ रहेंगे.

पाकिस्तान के विदेश विभाग के प्रवक्ता मोहम्मद फ़ैसल ने शनिवार रात इस बारे में ट्विटर पर जानकारी दी.

BBC

मीडिया रिपोर्ट्स में ये कहा गया था कि जाधव की उनके घरवालों से मुलाक़ात के कार्यक्रम के बारे में पाकिस्तान ने भारत से जानकारी मांगी थी.

इस्लामाबाद में साप्ताहिक ब्रीफिंग के दौरान प्रवक्ता मोहम्मद फ़ैसल ने कहा कि कुलभूषण जाधव के परिजनों को इस्लामाबाद के लिए वीज़ा जारी कर दिया गया है.

‘कुलभूषण जाधव को राजनयिक पहुँच नहीं देंगे’

वो वकील जिसकी हार से जाधव को मिला जीवनदान

कुलभूषण जाधव: ‘बेकार जाएगा भारत का अंतरराष्ट्रीय कोर्ट जाना’

कब पकड़े गए थे कुलभूषण जाधव?

3 मार्च 2016 को पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी ने जाधव को अवैध तरीके से घुसने और जासूसी के आरोप में गिरफ़्तार किया था.

पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जासूसी और चरमपंथ मामले में इसी साल अप्रैल में जाधव को फांसी की सज़ा सुनाई थी.

लेकिन मई में इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस ने भारत की अपील पर इस सज़ा पर रोक लगा दी थी.

पाकिस्तानी अख़बारों में इस बात को लेकर कयास लगाए जा रहे थे कि आख़िर किस बात से इस्लामाबाद जाधव को उनके घरवालों से मिलवाने के लिए राज़ी हुआ.

अंतरराष्ट्रीय अदालत ने जाधव की मौत की सज़ा पर रोक लगाई

पत्नी को मिली कुलभूषण जाधव से मिलने की इजाज़त.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here