आज होगी मोदी सरकार की अग्नि परीक्षा, 4 लोस व 11 विस की सीटों पर हुए थे चुनाव

0
60

उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और नागालैंड में लोकसभा की चार और 10 राज्यों में 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए हुए मतदान के परिणाम गुरुवार को घोषित किए जाएंगे। राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण उत्तर प्रदेश में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) खराब होने और हिंसा की छिटपुट घटनाओं के बीच कैराना लोकसभा के लिए हुए उपचुनाव में करीब 50 फीसदी मतदान हुआ था, जबकि नूरपुर विधानसभा उपचुनाव में लगभग 55 फीसदी मत पड़े थे।

कैराना लोकसभा क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी की मृगांका सिंह एवं राष्ट्रीय लोकदल की तबस्सुम हसन सहित 13 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा है, जबकि नूरपुर में मुख्य मुकाबला भाजपा की अवनी सिंह और गठबंधन प्रत्याशी नईमुल हसन के बीच रहा।

पंजाब में जालंधर के शाहकोट विधानसभा उपचुनाव के लिए करीब 73 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां मुख्य मुकाबला अकाली दल के नाइब सिंह कोहाड़ और कांग्रेस के उम्मीदवार हरदेव सिंह लाडी शेरावालियां के बीच है।

बिहार के जोकीहाट विधानसभा उपचुनाव के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच हुए मतदान में 53 प्रतिशत मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया। इस सीट पर सत्तारूढ़ जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के मुर्शीद आलम और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के मो. शाहनवाज आलम मुख्य प्रतिद्वंद्वी हैं।

झारखंड में उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र गोमिया विधानसभा उपचुनाव के लिए छिटपुट घटनाओं के बीच 62 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां से कुल 13 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा है।

महाराष्ट्र में पालघर लोकसभा सीट पर उपचुनाव के लिए औसतन 46.50 प्रतिशत मतदान हुए। यहां सात उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा है। उत्तराखंड में थराली विधानसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में मतदान की समाप्ति तक 53.43 प्रतिशत लोगों ने वोट डाले।

यहां मुख्य मुकाबला भाजपा की मुन्नी देवी और कांग्रेस के जीतराम शाह के बीच है। कर्नाटक के राजराजेश्वरी निर्वाचन क्षेत्र के लिए हुए उपचुनाव में औसतन 55 प्रतिशत वोट डाले गये। इस सीट पर जनता दल(सेक्युलर) के जी एच रामचंद्र, भाजपा के टी मनुरिाजू गौड़ा और कांग्रेस के मुनिरत्ना के बीच त्रिकोणीय संघर्ष रहा।

पश्चिम बंगाल में महेशतला विधानसभा उपचुनाव में मतदान की समाप्ति तक करीब 70 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इस सीट से तृणमूल कांग्रेस के दुलाल दास, भाजपा के सुजीत घोष और वाम मोर्चा से प्रभात चौधरी उम्मीदवार हैं , जबकि कांग्रेस ने माकपा के समर्थन में अपना उम्मीदवार चुनाव मैदान में नहीं उतारा है।

मेघालय के अम्पाती निर्वाचन क्षेत्र के लिए हुए उपचुनाव में रिकार्ड 91 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। इस सीट पर कांग्रेस की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा की पुत्री मियानी डी शिरा ने चुनाव लड़ा , जिनका दावा है कि वह इस सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखेंगी। उनके मुकाबले सत्तारूढ़ नेशनल पीपुल्स पार्टी के क्लेमेंट जी मोमिन हैं जिन्हें भाजपा एवं अन्य क्षेत्रीय दलों का समर्थन प्राप्त है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here